Card image cap

शून्यसे भी किसी अङ्कको न्यून माननेपर विसङ्गतियाँ

श्रहरि:  श्रीगणेशाय नम: श्रीगोवर्द्धनमठ – पुरीपीठाधीश्वर श्रीमज्जगद्गुरु – शङ्कराचार्य स्वामी निश्चलानन्द सरस्वती श्रीगोवर्द्धनमठ – पुरीपीठ   पुरी,  ओडिशा (भारत) . निज  सचिव स्वामी श्रीनिर्विकल्पानन्दसरस्वती . ध्यान रहे; शून्यसे भी किसी अङ्कको न्यून माननेपर निम्नलिखित विसङ्गतियाँ  सुनिश्चित हैं – न्यूनताकी ओर अभिमुख अवरोह क्रमसे उत्तराङ्ककी अपेक्षा पूर्वाङ्क सविशेष भावाङ्क होता है। अत 0 से भी किसी […]

Read More
Card image cap

चांदीपुर संगोष्ठी

समुपस्थित समादरणीय सन्तवृन्द, विद्वद्वृन्द, भक्तवृन्द एवं भक्तीमती माताओं, आप महानुभावों ने अद्भुत अपनत्व, आस्था, उत्साह और आह्लादपूर्वक इस संगोष्ठी का समायोजन किया है श्रीविनयजी टुल्लू जी आदि जिन महानुभावों का इस संगोष्ठी के समायोजन और संचालन में गुप्त अथवा प्रकटयोगदान है, भगवान श्री चन्द्रमौलीश्वर की अनुकम्पा के अमोघप्रभाव से उनका सर्वविध उत्कर्ष हो,ऐसी भावना है। यह […]

Read More

Card image cap

Books by Swami Nishchalananda Saraswatiji

The highly revered Acharya  Swami Nishchalananda Saraswati has authored more than 140 books, all breath-takingly seminal and veritable mines of truth-inspired undying wisdom. Of these books, it is interesting to add, eleven books are on mathematics. Holding “zero” to be a conceptual digit, the Acharya penned a whole book with the title “Swastik Mathematics”. Needless […]

Read More